पृष्ठ

बुधवार, जुलाई 11, 2012

बद्रीनाथ जी में

बद्रीनाथ जी में डा . सविता चतुर्वेदी ,डा . उमाशंकर चतुर्वेदी 'कंचन' संस्कृति चतुर्वेदी एवं श्रीमती सुभावती पाण्डेय 

1 टिप्पणी:

  1. मंदिर में भगवान, सामने भक्त खड़े हैं
    इनकी नज़रों से, देव के नैन लड़े हैं।

    उत्तर देंहटाएं